रवीन्द्र प्रभात

परिकल्पना कोष से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
Translate.jpg

लेख के अँग्रेजी अनुवाद के लिए क्लिक करें

रवीन्द्र प्रभात
रवीन्द्र प्रभात
पूरा नाम रवीन्द्र प्रभात
अन्य नाम रवीन्द्र कुमार चौबे
जन्म 05 अप्रैल 1963
जन्म भूमि महींदवारा, सीतामढ़ी जिला, बिहार, भारत
अविभावक केदारनाथ चौबे (पिता)
स्व. उर्मिला देवी
पति/पत्नी एम. प्रभात (1989-वर्तमान)
संतान उर्वीजा, शुभेन्दु और उर्वशी
कर्म भूमि लखनऊ
कर्म-क्षेत्र सीतामढ़ी, वाराणसी तथा लखनऊ
मुख्य रचनाएँ हिन्दी ब्लॉगिंग का इतिहास, हिन्दी ब्लोगिंग: अभिव्यक्ति की नई क्रांति, प्रेम न हाट बिकाए, ताकि बचा रहे लोकतन्त्र, मत रोना रमज़ानी चाचा, हमसफर तथा धरतीपकड़ निर्दलीय
विषय कविता, गजल, कहानी, उपन्यास
खोज हिन्दी ब्लॉगिंग का इतिहास
भाषा हिन्दी
शिक्षा पत्रकारिता और जनसंचार में स्नात्त्कोत्तर
विद्यालय उत्तर प्रदेश राजर्षि टंडन मुक्त विश्वविद्यालय
पुरस्कार-उपाधि संवाद सम्मान-2009, सृजन श्री सम्मान, बाबा नागार्जुन जन्मशती कथा सम्मान-2011, प्रबलेस चिट्ठाकारिता शिखर सम्मान-2011, हिन्दी साहित्यश्री सम्मान-2012
प्रसिद्धि न्यू मीडिया और ब्लॉग विश्लेषक के रूप में
विशेष योगदान हिन्दी ब्लॉग आलोचना के क्षेत्र में
नागरिकता भारतीय
बाहरी कड़ियाँ व्यक्तिगत जालपृष्ठ
अद्यतन‎

रवीन्द्र प्रभात हिन्दी के कवि,कथाकार,पटकथा,उपन्यासकर, लेखक,स्तंभकार, संपादक के साथ-साथ परिकल्पना कोश के संस्थापक हैं। ये पिछले लगभग ढाई दशक से हिन्दी में निरंतर लेखन कर रहे हैं।[१][२][३][४][५] [६] [७]

जीवन परिचय[सम्पादन]

इनका जन्म 05 अप्रैल 1969 को महींदवारा गाँव, सीतामढ़ी जनपद, बिहार के एक मध्यमवर्गीय परिवार में हुआ । इनका मूल नाम रवीन्द्र कुमार चौबे है । इनकी आरंभिक शिक्षा सीतामढ़ी में हुई। इन्होंने बिहार विश्वविद्यालय मुजफ्फरपुर से भूगोल विषय के साथ स्नातक प्रतिष्ठा की शिक्षा ग्रहण की। बाद में इन्होने उत्तर प्रदेश राजर्षि टंडन मुक्त विश्वविद्यालय, इलाहाबाद से पत्रकारिता और जन संचार में स्नातकोत्तर किया।[८][९][१०][११]

कार्यक्षेत्र[सम्पादन]

जीवन और जीविका के बीच तारतम्य स्थापित करने के क्रम में इन्होने अध्यापन भी किया, पत्रकारिता भी की, साथ ही एक बड़े व्यावसायिक समूह में प्रशासनिक पद पर कार्यरत हैं। लखनऊ से प्रकाशित समकालीन साहित्य-संस्कृति और कला को समर्पित मासिक पत्रिका परिकल्पना समय व हिन्दी के प्रमुख न्यू मीडिया पोर्टल परिकल्पना ब्लॉगोत्सव के ये प्रधान सम्पादक भी हैं।[१२][१३] [१४][१५][१६]

साहित्यिक गतिविधियां[सम्पादन]

रवीन्द्र प्रभात ने लगभग सभी साहित्यिक विधाओं में लेखन किया है परंतु कथा,व्यंग्य, कविता और ग़ज़ल लेखन में प्रमुख उपलब्धियाँ हैं। उन्होंने जापानी साहित्य से प्रेरित होकर प्रयोग के तौर पर कुछ हाइकु भी लिखें हैं और कुछ गीत भी । हिन्दी के मुख्य ब्लॉग विश्लेषक के रूप में चर्चित रवीन्द्र प्रभात विगत दो-ढाई दशक से निरंतर साहित्य की विभिन्न विधाओं में लेखनरत हैं। इनकी रचनाएँ भारत तथा विदेश से प्रकाशित लगभग सभी प्रमुख हिन्दी पत्र-पत्रिकाओं में प्रकाशित हो चुकी हैं तथा उनकी कविताएँ लगभग डेढ़ दर्जन चर्चित काव्य संकलनों में संकलित की गई। लखनऊ से प्रकाशित हिन्दी दैनिक जनसंदेश टाईम्स और डेली न्यूज एक्टिविस्ट के ये नियमित स्तंभकार हैं, व्यंग्य पर आधारित इनका साप्ताहिक स्तंभ चौबे जी की चौपाल काफी लोकप्रिय है।
नेपाली कॉंग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता,पूर्व कैबिनेट मंत्री और नेपाल संविधान सभा के अध्यक्ष अर्जुन नरसिंह के सी के साथ अंतर्राष्ट्रीय ब्लॉगर सम्मेलन, काठमाण्डू मे रवीन्द्र प्रभात[१७][१८]
साहित्यिक संस्था "काव्य संगम" के प्रकाशन सचिव के साथ-साथ ये "प्रगतिशील बज्जिका लेखक संघ" के राष्ट्रीय महासचिव रह चुके हैं। ये अन्तरजाल की वहुचर्चित ई-पत्रिका हमारी वाणीके सलाहकार सम्पादक तथा प्रमुख सांस्कृतिक संस्था "अन्तरंग" के राष्ट्रीय सचिव भी है। ये नयी पीढ़ी के बेहद चर्चित न्यू मीडिया विश्लेषक हैं । न्यू मीडिया के विशेषज्ञों में इनका अपना एक अलग मुकाम है । इनकी वेबसाईट परिकल्पना डॉट कॉम हिन्दी ब्लॉग जगत में काफी मशहूर है।[१९][२०][२१][२२][२३][२४][२५][२६][२७][२८] [२९][३०]

सामाजिक-सांस्कृतिक गतिविधियां[सम्पादन]

रवीन्द्र प्रभात काठमाण्डू स्थित नेपाल प्रज्ञा प्रतिष्ठान में भारत तथा नेपाली साहित्यकारों को सम्वोधित करते हुये, 15 सितंबर 2013[३१][३२]
रवीन्द्र प्रभात और गिरीश पंकज, 14 सितंबर 2013.

रवीन्द्र प्रभात चिट्ठा जगत में सिर्फ एक कुशल रचनाकार के ही रूप में नहीं जाने जाते हैं, उन्होंने हिन्दी चिट्ठाकारिता में कुछ विशिष्ट कार्य भी किये हैं। वर्ष 2007 में उन्होंने चिट्ठाकारी में एक नया प्रयोग प्रारम्भ किया और ‘ब्लॉग विश्लेषण’ के द्वारा ब्लॉग जगत में बिखरे अनमोल मोतियों से पाठकों को परिचित करने का बीड़ा उठाया। 2007 में पद्यात्मभक रूप में प्रारम्भ‍ हुई यह कड़ी 2008 में गद्यात्मचक हो चली और 11 खंडों के रूप में सामने आई। वर्ष 2009 में उन्होंने इस विश्ले्षण को और ज्या़दा व्यापक रूप प्रदान किया और विभिन्न प्रकार के वर्गीकरणों के द्वारा 25 खण्डों में एक वर्ष के दौरान लिखे जाने वाले प्रमुख चिट्ठों का लेखा-जोखा प्रस्तुत किया। इसी प्रकार वर्ष 2010 में भी यह अनुष्ठाणन उन्होंने पूरी निष्ठा के साथ संपन्न किया और 21 कडियों में ब्लॉग जगत की वार्षिक रिपोर्ट को प्रस्तुत करके एक तरह से उन्होंने ब्लॉग इतिहास लेखन का सूत्रपात किया। ब्लॉग जगत की सकारात्मक प्रवृत्तियों को रेखांकित करने के उद्देश्य से अभी तक जितने भी प्रयास किये गये हैं, उनमें ब्लॉगोत्सव एक अहम प्रयोग है। अपनी मौलिक सोच के द्वारा रवीन्द्र प्रभात ने इस आयोजन के माध्यम से पहली बार चिट्ठा जगत के लगभग सभी प्रमुख रचनाकारों को एक मंच पर प्रस्तुत किया और गैर ब्लॉगर रचनाकारों को भी इससे जोड़कर समाज में एक सकारात्मीक संदेश का प्रसार किया। इनके द्वारा प्रत्येक वर्ष 51 चिट्ठाकारों का सारस्वत सम्मान परिकल्पना सम्मान के नाम से किया जाता है । ये हिन्दी के मुख्य जालपृष्ठ परिकल्पना डॉट कॉम के मोडरेटर भी हैं । [३३]

उल्लेखनीय योगदान[सम्पादन]

हिन्दी साहित्य और ब्लॉगिंग के बीच सेतु निर्माण एवं उत्थान में अविस्मरणीय योगदान देने वाले हिन्दी चिट्ठाकारों को सम्मानित करने के उद्देश्य से रवीन्द्र प्रभात के द्वारा वर्ष-2010 में अंतर्जाल पर उत्सव की परिकल्पना की गयी । नाम दिया गया परिकल्पना ब्लॉगोत्सव। इसमें शामिल प्रतिभाशाली प्रत्येक वर्ष 51 सृजनधर्मियों का चुनाव करते हुये उन्हें परिकल्पना सम्मान दिये जाने की घोषणा की गयी । इसके अंतर्गत सम्मान धारकों को मोमेंटो, सम्मान पत्र, पुस्तकें, शॉल और एक निश्चित धनराशि के साथ सम्मानित करने की उद्घोषणा हुयी ।

प्रथम परिकल्पना सम्मान 30 अप्रैल 2011 को हिन्दी भवन नई दिल्ली में उत्तराखंड के तत्कालीन मुख्यमंत्री रमेश पोखरियाल निशंक निशंक द्वारा प्रदान किया गया। इस अवसर पर अशोक चक्रधर, राम दरस मिश्र,प्रभाकर श्रोत्रिय, विश्व बंधु गुप्ता आदि उपस्थित थे। द्वितीय परिकल्पना सम्मान 27 अगस्त 2012 को राय उमानाथ वाली प्रेक्षागृह लखनऊ में हिन्दी साहित्य के वरिष्ठ आलोचक मुद्राराक्षस (पत्रकार) द्वारा प्रदान किया गया। इस अवसर पर उद्भ्रांत, बिरेन्द्र यादव,सुधाकर अदीव आदि उपस्थित थे। तृतीय परिकल्पना सम्मान 13 सितंबर को लेखनाथ साहित्य सदन सेरखूटे चौराहा काठमाण्डू में नेपाली काङ्ग्रेस पार्टी पार्टी के वरिष्ठ नेता, पूर्व मंत्री नेपाल सरकार तथा नेपाल संबिधान सभा के अध्यक्ष अर्जुन नरसिंह के सी द्वारा प्रदान किया गया। इस अवसर पर नेपाल प्रज्ञा प्रतिष्ठान के सचिव सनत रेग्मी उपस्थित थे।[३४][३५] [३६][३७]

प्रमुख आयोजन[सम्पादन]

आयोजन आयोजन स्थल संयोजक तिथि/वर्ष मुख्य अतिथि विशिष्ट अतिथि
प्रथम अंतर्राष्ट्रीय ब्लॉगर सम्मेलन हिन्दी भवन,

नई दिल्ली

रवीन्द्र प्रभात 30 अप्रैल 2011 रमेश पोखरियाल निशंक अशोक चक्रधर, प्रभाकर श्रोत्रिय,

डॉ. गिरिराजशरण अग्रवाल, रामदरश मिश्र, विश्वबंधु गुप्ता आदि । [३८]

द्वितीय अंतर्राष्ट्रीय ब्लॉगर सम्मेलन राय उमानाथ बाली प्रेक्षागृह,

लखनऊ

रवीन्द्र प्रभात 27 अगस्त 2012 मुद्राराक्षस (पत्रकार)

एवं उद्भ्रांत

सुधाकर अदीब,डॉ सुभाष राय,

शैलेंद्र सागर, गिरीश पंकज; सुधाकर अदीब आदि[३९]

तृतीय अंतर्राष्ट्रीय ब्लॉगर सम्मेलन लेखनाथ साहित्य सदन,

काठमाण्डू

रवीन्द्र प्रभात 13 सितंबर 2013 अर्जुन नरसिंह के सी गिरीश पंकज, सनत रेग्मी,

कुमुद अधिकारी, विक्रम मणि त्रिपाठी, डॉ नमिता राकेश, डॉ रमा द्विवेदी आदि [४०]

चतुर्थ अंतर्राष्ट्रीय ब्लॉगर सम्मेलन वांगचुक रेस्ट, थिंपू रवीन्द्र प्रभात 16 जनवरी 2015 भूटान चैंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री के महासचिव श्री फूंग शृंग भूटान चैंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री के उप महासचिव श्री चन्द्र क्षेत्री, सार्क समिति के महिला विंग तथा इन्टरनेशनल स्कूल ऑफ भूटान की अध्यक्ष श्रीमती थिनले ल्हाम, असम विश्वविद्यालय सिल्चर के भाषा विज्ञान विभाग के अध्यक्ष प्रोफेसर नित्यानन्द पाण्डेय, इलाबाद परिक्षेत्र के डाक निदेशक श्री कृष्ण कुमार यादव और हिन्दी के वरिष्ठ व्यंग्यकार श्री गिरीश पंकज विशेष अतिथि के रूप में उपस्थित थे।
पंचम अंतर्राष्ट्रीय ब्लॉगर सम्मेलन ग्रैंड कोंकोर्ड सभागार कोलम्बो (श्रीलंका) रवीन्द्र प्रभात 25 मई 2015 नकुल दुबे समारोह का उद्घाटन श्रीलंका के वरिष्ठ रंगकर्मी डान सोमरत्ने विथाना ने किया। मुख्य अतिथि रहे उ.प्र.शासन के पूर्व नगर विकास मंत्री श्री नकुल दुबे और मानद अतिथि रहे निदेशक भारतीय डाक सेवा राजस्थान पश्चिमी क्षेत्र (जोधपुर) के कृष्ण कुमार यादव तथा विशिष्ट अतिथि रहे उत्तर महाराष्ट्र विश्वविद्यालय के हिंदी विभागाध्यक्ष डॉ सुनील कुलकर्णी।
षष्टम अंतर्राष्ट्रीय ब्लॉगर सम्मेलन सीजन स्याम सभागार बैंकॉक, थाईलैंड रवीन्द्र प्रभात 20 जनवरी 2016 नकुल दुबे मुख्य अतिथि उ0प्र0 शासन के पूर्व नगर विकास मंत्री श्री नकुल दुबे थे। अध्यक्षता श्री रवीन्द्र प्रभात ने की, विशिष्ट अतिथि रहे अन्तर्राष्ट्रीय बाक्सिंग कोच श्री एस0एन0 मिश्र तथा अवध ज्योति के सम्पादक डा0 राम बहादुर मिश्र

प्रकाशित रचनाएँ:[सम्पादन]

27 अगस्त 2012,अंतर्राष्ट्रीय ब्लॉगर सम्मेलन को सम्वोधित करते हुये रवीन्द्र प्रभात

बचपन में दोस्तों के बीच शेरो-शायरी के साथ-साथ तुकबंदी करने का शौक था । इंटर की परीक्षा के दौरान हिन्दी विषय की पूरी तैयारी नहीं थी, उत्तीर्ण होना अनिवार्य था । इसलिए मरता क्या नहीं करता । सोचा क्यों न अपनी तुकवंदी के हुनर को आजमा लिया जाए । फिर क्या था आँखें बंद कर ईश्वर को याद किया और राष्ट्रकवि दिनकर, पन्त आदि कवियों की याद आधी-अधूरी कविताओं में अपनी तुकवंदी मिलाते हुए सारे प्रश्नों के उत्तर दे दिए । जब परिणाम आया तो अन्य सारे विषयों से ज्यादा अंक हिन्दी में प्राप्त हुए थे । फिर क्या था, हिन्दी के प्रति अनुराग बढ़ता गया और धीरे-धीरे यह अनुराग मेरे कवि-कर्म में परिवर्तित होता चला गया ....।

रवीन्द्र प्रभात : आत्मकथात्मक टिप्पणियाँ[४१]

मूल पाठ रवीन्द्र प्रभात की कृतियाँ से उद्धृत

  • वर्ष 2012 में प्रेम न हाट बिकाय ( उपन्यास ) हिन्द युग्म द्वारा प्रकाशित।प्रख्यात नाट्य समीक्षक एवं वहुचर्चित साहित्यकार प्रताप सहगल ने इस पुस्तक के बारे में कहा है कि रवीन्द्र प्रभात ने प्रेम के स्वरूप को देह से निकाल कर अध्यात्म तक पहुँचाने का उपक्रम इस कथा के माध्यम से किया है।[५४]
  • वर्ष 2013 में धरती पकड़ निर्दलीय (हास्य धारावाहिक उपन्यास)[५५]

सम्मान[सम्पादन]

  • संवाद सम्मान-2009 [५६]
  • ब्लॉग श्री सम्मान (जनवरी-2011 में खटीमा ब्लॉगर मीट के दौरान साहित्य शारदा मञ्च की ओर से)[५७]
  • सृजन सम्मान बैंकॉक, थाईलैंड में आयोजित "चतुर्थ अन्तर्राष्ट्रीय हिन्दी सम्मलेन"' में । [५९][६०]
  • बाबा नागार्जुन जन्मशती कथा सम्मान-2011 (ताकि बचा रहे लोकतन्त्र" उपन्यास हेतु) और-
  • प्रबलेस चिट्ठाकारिता शिखर सम्मान-2011 (हिन्दी ब्लागिंग अभिव्यक्ति की नयी क्रान्ति हिन्दी ब्लागिंग की पहली मूल्यांकनपरक पुस्तक के सम्पादन हेतु[६१])
  • हिन्दी साहित्यश्री सम्मान-2012 [६२]

सन्दर्भ[सम्पादन]

  1. Ādhunika Hindī kavitā aura Ravīndra
  2. कविता कोश में रवीन्द्र प्रभात
  3. गद्य कोश में रवीन्द्र प्रभात
  4. http://scholar.qsensei.com/content/1rn8qv
  5. ई साहित्य में रवीन्द्र प्रभात का साक्षात्कार
  6. [राष्ट्रीय सहारा, हिन्दी दैनिक, पटना संस्कारण,25 अप्रैल 2011, पृष्ठ संख्या : 06,समाचार शीर्षक : अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर लहराएगा बिहार का परचम। उप शीर्षक : रवीन्द्र प्रभात की काव्य यात्रा की शुरुआत ]
  7. A Short Introduction of Ravindra Prabhat
  8. स्वर्गविभा में रवीन्द्र प्रभात
  9. आज,राष्ट्रीय हिंदी दैनिक,पटना संस्करण,14.11.1994,पृष्ठ संख्या :9,आलेख शीर्षक : साहित्य में सीतामढ़ी
  10. रवीन्द्र प्रभात एक परिचय
  11. [मौन के स्वर, संपादक : श्री राम दूबे,प्रकाशन वर्ष: 1994,पृष्ठ संख्या : 58,प्रकाशक : काव्य संगम प्रकाशन, इन्दिरा नगर, सीतामढ़ी-843302]
  12. वर्तमान साहित्यिक परिस्थितियों पर उर्दू शायर गौहर रज़ा से रवीन्द्र प्रभात की चर्चा का वीडियो जो ब्लॉग उत्सव के दौरान जारी हुयी थी भाग-1.mov
  13. [निष्पक्ष प्रतिदिन, हिन्दी दैनिक, लखनऊ संस्कारण, 12 जून 2011, पृष्ठ संख्या : 01, समाचार शीर्षक : उपन्यासकर रवींद्र प्रभात का नागरिक अभिनंदन
  14. रवीन्द्र प्रभात की पुस्तक का विवरण
  15. http://classify.oclc.org/classify2/ClassifyDemo?swid=734194598
  16. [हिंदुस्तान, हिन्दी दैनिक, बाराबंकी संस्कारण,12 जून 2012,पृष्ठ संख्या : 2,समाचार शीर्षक : सच से वाकिफ कराना मीडिया का दायित्व ]
  17. भारत और नेपाल नदी की दो धाराओं की भाँति हैं : अर्जुन नरसिन्ह केसी
  18. [http://www.nukkadh.com/2013/09/blog-post_16.html परिकल्‍पना समय द्वारा आयोजित इंटरनेशनल ब्‍लॉगर सम्‍मेलन ने काठमांडू में इतिहास रच दिया :काठमांडू से डॉ राम बहादुर मिश्र
  19. दैनिक हिन्दुस्तान, पटना संस्करण, 5 जून 1994, पृष्ठ संख्या : 07,
  20. दैनिक हिन्दुस्तान, पटना संस्करण, 24 जुलाई 1994, पृष्ठ संख्या : 06,रवीन्द्र प्रभात की ग़ज़ल
  21. संवाद (हिंदी मासिक),संपादक : बसंत आर्य, टैगोर साहित्य मंच डुमरा-843301,बिहार, भारत,अंक 4,5,6,1993, पृष्ठ संख्या : 2
  22. 1970 (समाचार पाक्षिक), संपादक : डॉ आर के वर्मा (राष्ट्रिय अध्यक्ष : रूरल जर्नलिस्ट एसोसियेशन ऑफ इंडिया) , देहरादून (उत्तराखंड),13 मई 1994, पृष्ठ संख्या : 2
  23. रवीन्द्र प्रभात के व्यक्तित्व और कृतित्व की चर्चा सृजनागाथा में
  24. [राष्ट्रीय सहारा, हिंदी दैनिक,नयी दिल्ली, पृष्ठ संख्या -1 (उमंग),26 सितंबर 1994, शीर्षक : एक गौरवशाली अतीत ]
  25. जनसंदेश टाईम्स
  26. चौबे जी की चौपाल
  27. डेली न्यूज एक्टिविस्ट
  28. [आज, हिन्दी दैनिक, पटना संस्करण, 30 दिसम्बर 1995, समाचार शीर्षक : बज्जिका लेखक संघ का घोडासहन दौरा]
  29. Today we have many type of new applications, which will help in promoting Hindi very fast on Internet.
  30. अधिकृत वेबसाईट
  31. नेपाल प्रज्ञा प्रतिष्ठान ने रखा भारतीय ब्लॉगरों एवं साहित्यकारों के सम्मान में संगोष्ठी
  32. नेपाल प्रज्ञा प्रतिष्ठान ने किया भारतीय ब्लॉगरों का सम्मान : रवीन्द्र प्रभात की अगुवाई में शामिल हुए अंतरराष्ट्रीय ब्लॉगर सम्मेलन काठमांडू के प्रतिभागी
  33. [जनसंदेश टाइम्स, हिन्दी दैनिक, लखनऊ संस्करण, लेखक : डॉ ज़ाकिर अली रजनीश,01 मार्च 2011, पृष्ठ संख्या :11, शीर्षक : ब्लोगिंग को सार्थक करती परिकल्पना ]
  34. ब्लॉगोत्सव एवं परिकल्पना सम्मान की परिकल्पना
  35. जनसंदेश टाइम्स,राष्ट्रीय हिन्दी दैनिक, लखनऊ संस्कारण,08 मई 2011, पृष्ठ संख्या-3, स्तंभ: ब्लॉग लोक, शीर्षक : परिकल्पना ब्लोगोत्सव: अभिव्यक्ति का दिव्य समारोह
  36. दैनिक भास्कर,राष्ट्रीय संस्कारण,नयी दिल्ली,दिनांक :29 अप्रैल 2011,लेखक : पीयूष पाण्डेय, आलेख शीर्षक : हिन्दी ब्लॉग सम्मेलन के बहाने
  37. सम्मान से संदर्भित समाचार
  38. परिकल्पना सम्मान : लोकसंघर्ष के जनसंघर्ष से साहित्य निकेतन की उत्तर आधुनिकता तक
  39. अंतर्राष्ट्रीय हिन्दी ब्लॉगर सम्मेलन एवं परिकल्पना सम्मान समारोह
  40. ऐतिहासिक रहा काठमाण्डौं का अंतरराष्ट्रीय ब्लॉगर सम्मेलन
  41. http://www.kavitakosh.org/kk/%E0%A4%B0%E0%A4%B5%E0%A5%80%E0%A4%A8%E0%A5%8D%E0%A4%A6%E0%A5%8D%E0%A4%B0_%E0%A4%AA%E0%A5%8D%E0%A4%B0%E0%A4%AD%E0%A4%BE%E0%A4%A4_/_%E0%A4%AA%E0%A4%B0%E0%A4%BF%E0%A4%9A%E0%A4%AF#.Uc5kdDv9u8I "कविता कोश" में रवीन्द्र प्रभात की आत्म कथात्मक टिप्पणी,2009
  42. खोजबीन,पाक्षिक पत्रिका,कला मंदिर प्रधान पथ सीतामढ़ी,15.12.1991,पृष्ठ संख्या : 2,लेखक : बसंत आर्य,आलेख शीर्षक : हमसफ़र : यथार्थ और कल्पना की धूप छाव
  43. हमसफर, रचयिता- रवीन्द्र प्रभात, प्रकाशक- साहित्य सरिता प्रकाशन,मेला रोड सीतामढ़ी-843302 , भारत, वर्ष- 1991,
  44. समकालीन नेपाली साहित्य , संपादक - रवीन्द्र प्रभात, प्रकाशक- उर्वीजा प्रकाशन,वार्ड न.13,भबदेपुर,सीतामढ़ी-843302, भारत, वर्ष- 1995,
  45. मत रोना रमज़ानी चाचा , रचयिता- रवीन्द्र प्रभात, प्रकाशक- काव्य संगम प्रकाशन,इंदिरानगर,सीतामढ़ी-843302, भारत, वर्ष- 1999,
  46. इंडिया टूडे,राष्ट्रीय पाक्षिक पत्रिका,नयी दिल्ली,15.5.1995,पृष्ठ संख्या :52,आलेख शीर्षक : मिठास कहा गईल
  47. रवीन्द्र प्रभात की पुस्तकें
  48. ताकि बचा रहे लोकतन्त्र, रचयिता- रवीन्द्र प्रभात, प्रकाशक- हिंद युग्म प्रकाशन, 1, जिया सराय, हौज खास, नई दिल्‍ली-110016, भारत, वर्ष- 2011, ISBN:8191038587,ISBN-13:9788191038583
  49. हिन्दी ब्लॉगिंग : अभिव्यक्ति की नयी क्रान्ति, संपादक - अविनाश वाचस्पति,रवीन्द्र प्रभात, प्रकाशक- हिन्दी साहित्य निकेतन,बिजनौर, भारत, वर्ष- 2011,पृष्ठ संख्या : 376, ISBN:978-93-80916-05-7
  50. रवीन्द्र प्रभात की पुस्तक का विवरण
  51. http://www.worldcat.org/identities/lccn-n2010-214634
  52. हिन्दी ब्लोगिंग का इतिहास,लेखक -रवीन्द्र प्रभात,प्रकाशक-हिन्दी साहित्य निकेतन,बिजनौर,भारत, वर्ष- 2011,पृष्ठ : 180, ISBN:978-93-80916-14-9
  53. Guide book on Hindi blogging; contributed articles रवीन्द्र प्रभात की पुस्तक का विवरण
  54. प्रेम न हाट बिकाए , रचयिता- रवीन्द्र प्रभात, प्रकाशक- हिंद युग्म प्रकाशन, 1, जिया सराय, हौज खास, नई दिल्‍ली-110016, भारत, वर्ष- 2012,पृष्ठ संख्या : 2 (भूमिका), ISBN:9381394105,ISBN-13:9789381394106
  55. धरती पकड़ निर्दलीय , रचयिता- रवीन्द्र प्रभात, प्रकाशक- हिंद युग्म प्रकाशन, 1, जिया सराय, हौज खास, नई दिल्‍ली-110016, भारत, वर्ष- 2013, भाषा: हिन्दी,पेपर बैक,ISBN: 9381394512,ISBN-13: 9789381394519
  56. [जनसंदेश टाइम्स,हिन्दी दैनिक,लखनऊ संस्कारण,लेखक : डॉ ज़ाकिर आली रजनीश,01 मार्च 2011,Page No.11,शीर्षक : ब्लोगिंग को सार्थक करती परिकल्पना]
  57. ऐतिहासिक पड़ाव-खटीमा ब्लॉगर मीट
  58. [http://bhadas4media.com/article-comment/1081-2011-12-14-05-19-39.html कई हिंदी ब्लागरों को 'ब्लाग भूषण' सम्मान मिला
  59. रवीन्द्र प्रभात 'सृजन श्री' सम्मान
  60. समाचार: दैनिक भास्कर, शीर्षक: साहित्यकार रवीन्द्र प्रभात 'सृजन श्री' सम्मान से अलंकृत
  61. [लीगेसी इंडिया, मासिक के अक्‍टूबर 2012 अंक के ब्‍लॉगरी स्‍तंभ में प्रकाशित समाचार]
  62. [राष्ट्रीय सहारा (उमंग),राष्ट्रीय संस्करण,नई दिल्ली, 30.12.2012 (रविवार) पृष्ठ संख्या :1]

बाहरी कड़ियाँ[सम्पादन]