अंतर्राष्ट्रीय ब्लॉगर सम्मेलन

परिकल्पना कोष से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
Translate.jpg

लेख के अँग्रेजी अनुवाद के लिए क्लिक करें

प्रथम अंतर्राष्ट्रीय ब्लॉगर सम्मेलन, नई दिल्ली
द्वितीय अंतर्राष्ट्रीय ब्लॉगर सम्मेलन, लखनऊ
तृतीय अंतर्राष्ट्रीय ब्लॉगर सम्मेलन, काठमांडू
चतुर्थ अंतर्राष्ट्रीय ब्लॉगर सम्मेलन, थिंपु
पंचम अंतर्राष्ट्रीय ब्लॉगर सम्मेलन,कोलंबो
षष्टम परिकल्पना सम्मान समारोह के सम्मानित प्रतिभागी
सप्तम अंतर्राष्ट्रीय ब्लॉगर सम्मेलन में मंचासीन अतिथिगण

अंतर्राष्ट्रीय ब्लॉगर सम्मेलन परिकल्पना (संस्था) द्वारा संचालित दक्षिण एशियाई ब्लॉगरों व साहित्यकारों का एक वार्षिक मिलन समारोह है। इसका शुभारंभ ३० अप्रैल २०११ को नई दिल्ली स्थित हिन्दी भवन में हुआ। इसके संस्थापक-संयोजक रवीन्द्र प्रभात हैं। इसके अबतक चार आयोजन हो चुके हैं। उल्लेखनीय है कि हिन्दी साहित्य और ब्लॉगिंग के बीच सेतु निर्माण एवं उत्थान में अविस्मरणीय योगदान देने वाले हिन्दी चिट्ठाकारों को सम्मानित करने के उद्देश्य से इस संस्था के द्वारा वर्ष-2010 में अंतर्जाल पर उत्सव की परिकल्पना की गयी, जिसका परिणाम है यह अंतर्राष्ट्रीय ब्लॉगर सम्मेलन।

भारत[सम्पादन]

मुख्य लेख: प्रथम अंतर्राष्ट्रीय ब्लॉगर सम्मेलन

मुख्य लेख: द्वितीय अंतर्राष्ट्रीय ब्लॉगर सम्मेलन

नेपाल[सम्पादन]

मुख्य लेख: तृतीय परिकल्पना सम्मान समारोह

भूटान[सम्पादन]

मुख्य लेख: चतुर्थ अंतर्राष्ट्रीय ब्लॉगर सम्मेलन

  • चतुर्थ अंतर्राष्ट्रीय ब्लॉगर सम्मेलन १६ जनवरी २०१५ को भूटान में आयोजित हुआ। इस अवसर पर भूटान चैंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री के महासचिव श्री फूब शृंग, भूटान चैंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री के उप महासचिव चन्द्र क्षेत्री, सार्क समिति के महिला विंग तथा इन्टरनेशनल स्कूल ऑफ भूटान की अध्यक्ष श्रीमती थिनले ल्हाम, असम विश्वविद्यालय सिल्चर के भाषा विज्ञान विभाग के अध्यक्ष प्रोफेसर नित्यानन्द पाण्डेय, इलाबाद परिक्षेत्र के डाक निदेशक श्री कृष्ण कुमार यादव और हिन्दी के वरिष्ठ व्यंग्यकार श्री गिरीश पंकज विशेष अतिथि के रूप में उपस्थित थे।

इस अवसर पर पांच पुस्तकों क्रमशः संपत देवी मुरारका की यात्रा वृत्त तृतीय भाग, कुसुम वर्मा की ह्रदय कँवल, सूर्य प्रसाद शर्मा निशिहर की संघर्षों का खेल, विष्णु कुमार शर्मा की दोहावली, अशोक गुलशन की क्या कहूँ किससे कहूँ और परिकल्पना समय पत्रिका के जनवरी अंक के विमोचन के साथ-साथ परिकल्पना कोश वेबसाईट का लोकार्पण हुआ, वहीं रायपुर छत्तीसगढ़ की अल्पना देशपांडे और अदिति देशपांडे की कलाकृतियों की प्रदर्शनी का लोकार्पण संपन्न हुआ। इस अवसर पर कुसुम वर्मा के अवधी लोकगीतों की खुशबू में नहाई भूटान की एक शाम। डॉ राम बहादुर मिश्र के कुशल संचालन में सुर सरस्वती और संस्कृति की त्रिवेणी प्रवाहित करती काव्य संध्या और ब्लॉग पर हाशिए का समाज परिचर्चा में शामिल हुए भारत और भूटान के एक दर्जन से ज्यादा ब्लोगर्स।

सम्मेलन के दौरान वैश्विक परिप्रेक्ष्य विशेषकर सार्क देशों में हिन्दी के पठन-पाठ्न, हिन्दी साहित्य के प्रचार-प्रसार, न्यू मीडिया के रूप में ब्लॉगिंग के विभिन्न आयामों एवं बदलते दौर में सोशल मीडिया की भूमिका इत्यादि विषयों पर भी चर्चा हुई। सम्मेलन का मूल उद्देश्य दक्षिण एशिया में ब्लॉग के विकास हेतु पृष्ठभूमि तैयार करना, हिंदी-संस्कृति का प्रचार-प्रसार करना, भाषायी सौहार्द्रता एवं सांस्कृतिक अध्ययन-पर्यटन का अवसर उपलब्ध कराना आदि था।

श्रीलंका[सम्पादन]

मुख्य लेख: पंचम अंतर्राष्ट्रीय ब्लॉगर सम्मेलन

  • पंचम अंतर्राष्ट्रीय ब्लॉगर सम्मलेन एवं परिकल्पना सम्मान समारोह श्रीलंका की राजधानी कोलम्बो तथा सांस्कृतिक राजधानी कैंडी में पूरी भव्यता के साथ संम्पन हुआ| समारोह का उद्घाटन श्रीलंका के वरिष्ठ रंगकर्मी डान सोमरत्ने विथाना ने किया। मुख्य अतिथि रहे उ.प्र.शासन के पूर्व नगर विकास मंत्री श्री नकुल दुबे| और मानद अतिथि रहे निदेशक भारतीय डाक सेवा राजस्थान पश्चिमी क्षेत्र (जोधपुर) के कृष्ण कुमार यादव तथा विशिष्ट अतिथि रहे उत्तर महाराष्ट्र विश्वविद्यालय के हिंदी विभागाध्यक्ष डॉ सुनील कुलकर्णी। इस सम्मलेन में मध्य प्रदेश, छतीसगढ़, महाराष्ट्र, असम, दिल्ली, हरियाणा समेत उत्तर प्रदेश के कई ब्लॉगरों को सम्मानित किया गया। दिल्ली, लखनऊ, काठमाण्डू(नेपाल) तथा थिम्पू (भूटान) के बाद पांचवा अंतर्राष्ट्रीय ब्लॉगर सम्मेलन दिनांक 23 मई 2015 से 27 मई 2015 तक श्रीलंका की राजधानी कोलम्बो, सांस्कृतिक राजधानी कैंडी एवं निगम्बो आदि नगरों में संम्पन हुआ|इस अवसर पर ब्लॉगरों को अंगवस्त्र, स्मृति चिन्ह, सम्मान पत्र देकर एक निश्चित राशि के साथ सम्मानित किया गया। कार्यक्रम का संचालन संयुक्त रूप से डॉ राम बहादुर मिश्र और सुनीता प्रेम यादव ने किया। अंत में कार्यक्रम के संयोजक रवीन्द्र प्रभात ने सबके प्रति आभार व्यक्त किया|[१] [२]

थाईलैंड[सम्पादन]

मुख्य लेख: षष्टम अंतर्राष्ट्रीय ब्लॉगर सम्मेलन

  • प्रतिवर्ष आयोजित किया जाने वाला षष्टम अंतर्राष्ट्रीय ब्लॉगर सम्मेलन 16 से 21 जनवरी 2016 के बीच थाईलैण्ड की सांस्कृतिक राजधानी पटाया और राजनितिक राजधानी बैंकाक में आयोजित किया गया। नई दिल्ली, लखनऊ, काठमांडो (नेपाल), थिम्मू (भूटान) तथा कोलम्बो (श्रीलंका) के सफल आयोजनों की श्रृंखला में थाईलैण्ड का यह छठा सम्मेलन भी पूरे वैभव के साथ सम्पन्न हुआ। इस अवसर पर थाईलैण्ड के प्रमुख शहर पटाया और राजधानी बैंकाक में सम्पन्न हुए सांस्कृतिक एवं साहित्यिक कार्यक्रमों में कवि सम्मेलन, पुस्तक लोकार्पण, परिचर्चा, सम्मान समारोह एवं सांस्कृतिक संध्या जैसे कार्यक्रम सम्पन्न हुए। सभा का संचालन सुनीता प्रेम यादव ने किया। चार सत्रों में सम्मेलन का मुख्य कार्यक्रम सम्पन्न हुआ। प्रथम उद्घाटन सत्र के मुख्य अतिथि उ0प्र0 शासन के पूर्व नगर विकास मंत्री श्री नकुल दुबे थे। अध्यक्षता श्री रवीन्द्र प्रभात ने की, विशिष्ट अतिथि रहे अन्तर्राष्ट्रीय बाक्सिंग कोच श्री एस0एन0 मिश्र तथा अवध ज्योति के सम्पादक डा0 राम बहादुर मिश्र

न्यूजीलैंड[सम्पादन]

मुख्य लेख: सप्तम अंतर्राष्ट्रीय ब्लॉगर सम्मेलन

  • ग्लोबल ऑर्गनाइजेशन ऑफ पीपुल ऑफ इंडियन ओरिजिन वाईकाटो, भारतीय विद्या भवन, हेमिल्टन तथा परिकल्पना के संयुक्त तत्वावधान में विगत 23 दिसंबर 2016 से 01 जनवरी 2017 के बीच न्यूजीलैंड के ऑकलैंड, हेमिल्टन, रोटोरूआ आदि शहरों में आयोजित सातवें अंतर्राष्ट्रीय ब्लॉगर्स सम्मेलन में फिजी के शिक्षा मंत्रालय के हिन्दी प्रतिनिधि श्री रमेश चन्द्र, बिहार विधानसभा के अध्यक्ष श्री विजय कुमार चौधरी, न्यूजीलैंड नेशनल पार्टी की सांसद डॉ परमजीत परमार तथा हिन्द मेडिकल कॉलेज लखनऊ के निदेशक डॉ ओ. पी. सिंह की गरिमामयी उपस्थिति में सम्पन्न हुआ। संचालन रत्ना श्रीवास्तव ने तथा सभा की अध्यक्षता रवीन्द्र प्रभात ने की।

सन्दर्भ[सम्पादन]

  1. श्रीलंका में पंचम अंतर्राष्ट्रीय ब्लॉगर सम्मेलन संपन्न
  2. ब्लॉगर आकांक्षा यादव का श्रीलंका में सम्मान